सेमीकॉन इंडिया इवेंट-2023। भारत का तकनीकी उन्नति का उत्सव।Semicon India Event in Hindi

(सेमीकॉन इंडिया इवेंट-2023 क्या है,Semicon India Event in Hindi,सेमीकॉन इंडिया इवेंट में कौन कौन सी कंपनियां शामिल हो रही है,सेमीकॉन इंडिया इवेंट में शामिल कंपनियों के निवेश की घोषणा,सेमीकंडक्टर इस्तेमाल होने वाले उत्पाद,सेमीकंडक्टर चिप क्या होती है,सेमीकंडक्टर चिप बनाने वाली कंपनियां,सेमीकंडक्टर हब बनेगा भारत)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 जुलाई 2023 को गुजरात के गांधीनगर में सेमीकॉन इंडिया इवेंट का उदघाटन किया जिसमें केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव और राजीव चंद्रशेखर सहित कई अन्य लोग मौजूद थे।

पीएम मोदी ने उदघाटन करते हुए कहा कि पहले कहा जाता था कि “वाय इन्वेस्ट” और अब पूरी दुनिया कहती है “वाय नॉट इन्वेस्ट”। पीएम मोदी ने कहा कि भारत अब ग्लोबल इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग हब बनता जा रहा है।

सेमीकॉन इंडिया इवेंट-2023 (What is Semicon India Event in Hindi ):

Table of Contents

यह एक राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम है, जिसमें अग्रणी सेमीकंडक्टर इंडस्ट्रीज के प्रमुख व अग्रणी कंपनियां भी शामिल हो रही हैं। इस कार्यक्रम में फॉक्सकॉन, माइक्रोन, एएमडी, आईबीएम, मार्वल, वेदांता, एलएएम रिसर्च, एनएक्सपी सेमीकंडक्टर्स, एसटी माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स, ग्रांटवुड टेक्नोलॉजीज, इंफीनियोन टेक्नोलॉजीज और एप्लाइड मैटेरियल्स सहित इस क्षेत्र से जुड़ी अन्य जानी-मानी कंपनियां शिरकत कर रही है और देश में निवेश की संभावना बढ़ेगी।


प्रदर्शनी 28 जुलाई से 30 जुलाई तक खुली रहेगी। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के मुताबिक प्रदर्शनी में आगंतुकों को सेमीकंडक्टर उद्योगों में इस्तेमाल की जाने वाली अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी एवं नवोन्मेषण के बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी।

सेमीकॉन इंडिया इवेंट में कौन कौन सी कंपनियां शामिल हो रही है (Which companies will be present at Semicon India):


सेमीकंडक्टर इंडस्ट्रीज के प्रमुख व अग्रणी कंपनियां भी शामिल हो रही हैं। इस कार्यक्रम में फॉक्सकॉन, माइक्रोन, एएमडी, आईबीएम, मार्वल, वेदांता, एलएएम रिसर्च, एनएक्सपी सेमीकंडक्टर्स, एसटी माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स, ग्रांटवुड टेक्नोलॉजीज, इंफीनियोन टेक्नोलॉजीज और एप्लाइड मैटेरियल्स सहित इस इंडस्ट्री की कई कंपनियां शामिल हो रही है।


इस इवेंट में फॉक्सकॉन चेयरमैन यंग लियू, माइक्रोन के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर संजय मल्होत्रा और एडवांस माइक्रो डिवाइसेज के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर मार्क पेपरमास्टर मुख्य वक्ता होंगे।

सेमीकॉन इंडिया इवेंट में शामिल कंपनियों के निवेश की घोषणा:


28 जुलाई 2023 में उदघाटन के समय कुछ कंपनियों ने निवेश की घोषणा की।

  • *माइक्रोन का निवेश: माइक्रोन के संजय मल्होत्रा ने कहा कि सेमीकंडक्टर इंडस्ट्रीज में भारत में पहला बड़ा निवेश माइक्रोन का होगा जिससे 15000 नौकरियां पैदा होंगी।
  • *ताइवान भारत का सच्चा भागीदार: फॉक्सकॉन चेयरमैन यंग लियू ने कहा कि फॉक्सकॉन सेमीकंडक्टर इंडस्ट्रीज का सरताज है और दुनिया में बनने वाले 10 सेमीकंडक्टरो में से 4 फॉक्सकॉन में बनते हैं। उन्होंने कहा कि ताइवान भारत का सच्चा भागीदार है।
  • *वेदांता लगाएगा गुजरात में सेमीकंडक्टर प्लांट: वेदांता के चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने कहा कि दुनियाभर के निवेशकों के लिए अच्छा ऑप्शन है। वेदांता जल्द ही गुजरात में सेमीकंडक्टर प्लांट लगाएगा।
  • *ग्लोबल सेमीकंडक्टर निर्माता AMD करेगी 32000 करोड़ का निवेश: ग्लोबल सेमीकंडक्टर निर्माता AMD अगले पांच सालों में भारत में लगभग 32000 करोड़ का निवेश करेगी।

सेमीकंडक्टर इस्तेमाल होने वाले उत्पाद (Which products make use of semiconductors?):


आज के तकनीकी युग में सेमीकंडक्टर एक अनिवार्य आवश्यकता है। अधिकांश तकनीकी उत्पादों में सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल होता है।
कुछ उत्पाद जिनमें सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल होता है:

कारकंप्यूटरटीवीमोबाइल
कैमरामाइकस्मार्ट बल्बटेलीकॉम
रेलवेस्पीकरगैजेट्सएसी

आज सेमीकंडक्टर के बिना कल्पना मुश्किल है। उपरोक्त सूची के अलावा रेलवे, बैंक, एटीएम, हॉस्पिटल आदि में भी सेमीकंडक्टर चिप इस्तेमाल होती है।

सेमीकंडक्टर चिप क्या होती है (What is Semiconductor Chip in Hindi):


सेमीकंडक्टर चिप सिलिकॉन से बनी होती है। यह सर्किट में इलेक्ट्रिसिटी कंट्रोल करती है। सेमीकंडक्टर चिप किसी भी गैजेट्स के लिए दिमाग का कार्य करती है जिसके बिना वह कार्य नही कर सकती है।


हर व्यक्ति के हाथ में रहने वाले मोबाइल से लेकर कंप्यूटर, कार, अनेक गैजेट्स के साथ टेलीकॉम, रेलवे, बैंक,एटीएम, अस्पताल की मशीनों में भी सेमीकंडक्टर चिप का उपयोग होता है।

सेमीकंडक्टर चिप किसी भी गैजेट को ऑटोमैटिक रूप से कार्य करने में मदद करती है।

सेमीकंडक्टर चिप बनाने वाली कंपनियां: (Leading Semiconductor Chip Manufacturing Firm)


सेमीकंडक्टर चिप बनाने का सरताज ताइवान है। इंटेल, सैमसंग, फॉक्सकॉन, माइक्रोन,AMD, TSMC, ब्रैडकॉम और Nvidia आदि कंपनियां ग्लोबल सेमीकंडक्टर चिप निर्माता हैं।

सेमीकंडक्टर हब बनेगा भारत (India will be a Semiconductor Hub)


सेमीकंडक्टर इंडस्ट्री में अभी पूरी दुनिया ताइवान और चीन पर निर्भर है। भारत सेमीकंडक्टर मैटेरियल के इंपोर्ट पर निर्भर है और प्रतिवर्ष लगभग 1.76 करोड़ रु का इंपोर्ट भारत करता है और वर्ष 2025 तक 7 लाख करोड़ रुपए से अधिक होने की संभावना है। भारत में सेमीकंडक्टर इंडस्ट्री में विश्व स्तरीय कंपनियों के निवेश से अनेक लाभ होंगे और भारत सेमीकंडक्टर हब बनकर उभरेगा।

  • *सेमीकंडक्टर के लिए ताइवान और चीन पर निर्भरता कम होगी।
  • *भारत में ही सेमीकंडक्टर निर्माण से इलेक्ट्रिक आइटम से लेकर ऑटोमोबाइल तक सस्ते होंगे।
  • *गैजेट्स और तकनीकी के क्षेत्र में नौकरियां पैदा होंगी।
  • *भारत का सेमीकंडक्टर इंपोर्ट व्यय कम होगा।
  • *भारत सेमीकंडक्टर हब बनकर उभरेगा।

निष्कर्ष:


भारत सरकार हाल ही में सेमीकंडक्टर क्षेत्र में PLI स्कीम लाई थी। इस राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम में अग्रणी सेमीकंडक्टर इंडस्ट्रीज के प्रमुख व अग्रणी कंपनियां शामिल हो रही हैं जो सेमीकंडक्टर क्षेत्र में ताइवान और चीन पर निर्भरता कम करेगा और भारत सेमीकंडक्टर का ग्लोबल हब बनेगा।

सामान्य प्रश्न: (Semicon India Event in Hindi )

Q1. सेमीकॉन इंडिया इवेंट-2023 कहां आयोजित हो रहा है (Where is Semicon India held in Hindi )

गुजरात के गांधीनगर में

Q2. सेमीकॉन इंडिया इवेंट-2023 का उदघाटन किनसे किया (Who launched the Semicon India Event)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने

Q3. सेमीकंडक्टर चिप निर्माण में किस देश का प्रभुत्व है (Which are the leading semiconductor chip manufacturing countries)

ताइवान और चीन

Q4.सेमीकंडक्टर चिप का उपयोग कहां होता है?(Where semiconductor chip is used in Hindi)

टेक्नोलॉजी और इलेक्ट्रिक गैजेट से लेकर टेलीकॉम, रेलवे, बैंक, एटीएम, हॉस्पिटल में उपयोग की जाने वाली मशीनों में, एग्रीकल्चर क्षेत्र के इलेक्ट्रिक उपकरणों आदि में उपयोग होता है।

You May Also like:

Concord Biotech IPO।कॉनकॉर्ड बायोटेक आईपीओ।झुनझुनवाला के निवेश वाली कंपनी के IPO से कमाए 2023 में पैसा

ऑनलाइन गेमिंग पर संकट। GST 28%।Online Gaming GST

अमेरिका को फिच ने दिया झटका। देश की क्रेडिट रेटिंग घटाई ।AAA से AA+